डिजिटल मार्केटिंग द्वारा व्यवसाय को ऑनलाइन लाने के तरीके।

डिजिटल मार्केटिंग द्वारा व्यवसाय को ऑनलाइन लाने के तरीके

चलिए सक्रिय होते हैं।


हमनें अब तक सीखा है कि अपने संभावित ग्राहकों और दर्शकों को जानने के लिए कौन से माध्यम सर्वश्रेष्ठ हैं, और उनका इस्तेमाल कैसे करना है। अब हम देखेंगे कि इस जानकारी को ध्यान में रखते हुए, हम किस तरह सोशल मीडिया में अपनी उपस्थिति बना सकते हैं। मौजूदा और नए ग्राहकों के साथ संबंध बनाने के लिए एक मजबूत उपस्थिति होना महत्वपूर्ण है।

सामाजिक होना ही सोशल मीडिया की प्रकृति है – जिसका अर्थ है लोगों से जुड़ना और संबंध स्थापित करना। तो सोशल मीडिया पर अपनी उपस्थिति दर्ज करवाने का सर्वश्रेष्ठ तरीका है, ऐसा कॉन्टेंट बनाना जो अधिक से अधिक संख्या में आपको अपने संभावित ग्राहकों और दर्शकों के साथ जोड़े। जितने ज़्यादा लोग आपकी पोस्ट को लाइक, उस पर कॉमेंट या शेयर करेंगे, उतनी ही ज़्यादा बार आपकी पोस्ट उनकी सोशल फ़ीड में नियमित रूप से दिखाई देगी। ऐसा होने से न केवल आपकी पहुंच बढ़ेगी बल्कि लोगों के बीच आपके व्यवसाय के बारे में जानकारी भी बढ़ेगी।

आइए कुछ ऐसी चीज़ों पर नज़र डालते हैं। , जिन्हें करके आप शून्य से शुरू करके अपनी सोशल उपस्थिति का निर्माण कर सकते हैं।

कुछ महत्वपूर्ण उक्तियां


फ़ॉलोवर – इस शब्द का इस्तेमाल एक ऐसे व्यक्ति के लिए किया जाता है, जो सोशल मीडिया पर आपके व्यवसाय से जुड़ी ताज़ा जानकारी प्राप्त करना चाहता है। अगर कोई व्यक्ति Facebook पर आपका पेज "लाइक" करता है, या Instagram पर आपके व्यवसाय को "फ़ॉलो" करता है, या youtube पर आपके चैनल को "सबस्क्राइब" करता है, तो वह आपका फ़ॉलोवर बन जाता है।

स्वाभाविक पहुँच – इससे उन लोगों की संख्या का पता चलता है, जिन तक आप बिना पैसा खर्च किए, Facebook, Twitter, YouTube और Instagram जैसी सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर पोस्ट डालकर, अपनी पोस्ट शेयर करने के लिए लोगों को प्रोत्साहित करते हैं। इस तरह उनसे बातचीत शुरु करते हुए, उन तक पहुंच सकते हैं।

भुगतान द्वारा पाई गयी पहुँच - ये उन लोगों की सख्या है जिन तक आप पैसे खर्च करके सोशल मीडिया पर किए गए विज्ञापन द्वारा पहुंचते हैं।

पहला कदम -
अपने दोस्तों को अपनी प्रोफ़ाइल फ़ॉलो करने के लिए आमंत्रित करें

शुरुआत करते समय, अपने दोस्तों से आपकी व्यवसायिक प्रोफ़ाइल को फ़ॉलो करने के लिए कहें। ऐसा करने से सोशल मीडिया पर आपके फ़ॉलोवर्स तेज़ गति से बढ़ेंगे। उन दोस्तों को ज़रूर आमंत्रित करें जो आपके व्यवसाय में दिलचस्पी रखते हैं। और जो आपके संभावित ग्राहक और दर्शक बन सकते हैं। आपके दोस्त, जितने ज़्यादा ग्राहकों और दर्शकों से मेल खाते होंगे, इस बात की उतनी ही अधिक संभावना है कि वो आपके कॉन्टेंट से जुड़ेंगे और अपनी प्रतिक्रिया देंगे। सोशल मीडिया पर आपके दोस्तों की सारी गतिविधियां उनके दोस्तों की फ़ीड में लगातार आती रहेंगी। इस तरह आप वास्तविक रूप से अपना प्रचार और अपनी पहुंच दोनों बढ़ा पाएंगे।

पते की बात: जब आपके दोस्त आपके कॉन्टेंट से जुड़ते हैं, तो यह उनके फ़ॉलोवर्स की फ़ीड में भी दिखाई देता है। ऐसे में आपकी पोस्ट देखकर अगर कोई नया व्यक्ति किसी भी तरह से प्रतिक्रिया देता है, तो तुरंत जवाब दें और उन्हें आपको फ़ॉलो करने का आमंत्रण दें।

दूसरा कदम – अपनी ऑनलाइल उपस्थिति का प्रचार करें


एक व्यापार अपने ग्राहकों से कई माध्यमों द्वारा संपर्क करता है – ईमेल और वेबसाइट से लेकर पर्चे और पोस्टरों तक। सोशल मीडिया पर गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए अपने ईमेल, बिज़नेस कार्ड और WhatsApp स्टेटस जैसी सारी प्रचार सामग्री में, सोशल मीडिया पर अपनी उपस्थिति (जैसे आपका यूआरएल, आपके Facebook पेज का नाम और Twitter प्रोफ़ाइल की जानकारी आदि) का विवरण दें।

इस विवरण के साथ कोई विशेष कॉन्टेंट, खास प्रचार सामग्री या ग्राहकों को मिलने वाली छूट की जानकारी देने की कोशिश करें। इस तरह के प्रोत्साहन लोगों को आपकी प्रोफ़ाइल पर जाने के लिए बढ़ावा दे सकते हैं।

पते की बात: सोशल मीडिया पर कुछ मंच "क्यू आर" कोड भी उपलब्ध करवाते हैं। ऐसे में आप भी तकनीक का सहारा लेते हुए अपनी प्रचार सामग्री में "क्यू आर" कोड को शामिल कर सकते हैं। "क्यू आर" कोड एक प्रकार का बारकोड है, जिसे मोबाइल से स्कैन करने पर, ये यूज़र को एक विशेष यूआरएल पर ले जाता है – और आपका "क्यू आर" कोड स्कैन करने वाला व्यक्ति सीधे आपकी व्यवसायिक प्रोफ़ाइल पर पहुंच जाता है।

तीसरा कदम – नियमित रूप से आकर्षक और उपयुक्त कॉन्टेंट पोस्ट करें


अपनी सोशल फ़ॉलोविंग को स्वाभाविक रूप से बढ़ाने का सबसे अच्छा तरीका है बेहतरीन कॉन्टेंट डालना। अगर पढ़ने वाले को आपकी पोस्ट दिलचस्प लगेगी तो वह आपकी प्रोफ़ाइल पर जाकर आपके बारे में अधिक जानकारी लेना चाहेगा।

पिछले पाठ के बारे में फिर से सोचिए, “अपने संभावित ग्राहकों और दर्शकों को कैसे पहचानें” और खुद को याद दिलाइए:

  • आपके ग्राहकों और दर्शकों की ज़रूरते और रुचियां क्या हैं। ?
  • वो किस तरह के कॉन्टेंट को खुद से जोड़ के देख सकेंगे?
  • अपने ग्राहकों और दर्शकों के साथ कॉन्टेंट शेयर करने के परे सोचें। विचार करें कि आप प्रभावी तरीके से दो-तरफ़ा बातचीत कैसे शुरू कर सकते हैं।

उदाहरण के तौर पर: दातों के अस्पताल की मालकिन जानवी, ज़रूरी बातें और दंत चिकित्सा से जुड़ी विज्ञान की आधुनिक जानकारी अपने मरीजों के साथ Twitter के ज़रिए शेयर करती हैं। लेकिन उनकी सबसे लोकप्रिय पोस्ट वो है, जहां वो अपने ग्राहकों को सवाल पूछने का मौका देती हैं। पोस्ट में “सवाल और जवाब” को शामिल करके उन्होंने ग्राहकों को बेहतर तरीके से जुड़ने का मौका दिया है। इस वजह से उनके एकाउंट को फ़ॉलो करने वालों की संख्या भी बढ़ गई।

चौथा कदम – अन्य संस्थानों के साथ जुड़ें


सोशल मीडिया पर अपनी उपस्थिति बढ़ाने का एक और शानदार तरीका है कि आप उन संबंधित व्यवसायों, प्रकाशनों और संगठनों की सोशल मीडिया प्रोफ़ाइल पर जाएं, जिन्हें आपके ग्राहक और दर्शक फ़ॉलो करते हैं। उनके पोस्ट को लाइक और कमेंट करके आप उनके फ़ॉलोवर्स को मौका देते हैं। कि उनका ध्यान आपकी तरफ बंटे। आप किसी Facebook ग्रुप पर यह करके देख सकते हैं।

Facebook ग्रुप लोगों को एक सार्वजनिक उद्देश्य या गतिविधि के लिए एक साथ आकर राय व्यक्त करने, फ़ोटो पोस्ट करने और संबंधित कॉन्टेंट शेयर करने का मौका देते हैं।

उदहारण के तौर पर: साई, पुरुषों के परिधान के स्टोर की ओनर हैं। और वो Facebook के ज़रिए अपनी पहुंच बढ़ाना चाहती हैं। साई उन ग्रुप्स पर जाती हैं। , जहां उनके संभावित ग्राहक मौजूद हैं। (जैसे “मेन्स फ़ैशन मुंबई”)। उस ग्रुप में नए फ़ैशन और रुझानों की सार्वजनिक चर्चाओं में वो शामिल होने लगती हैं। वो हर पोस्ट अपने व्यवसाय के नाम से बनाए गए एकाउंट से ही करती हैं। उनकी पोस्ट्स से उनकी स्टाइल की समझ का पता चलता है, जिसे देखकर लोग तुरंत उनके पेज पर क्लिक करते हैं। वो जितनी ज़्यादा चर्चाओं में शामिल होती हैं। , उन्हें उतनी ही ज़्यादा प्रतिक्रियाएं मिलती हैं। अपनी सामाजिक उपस्थिति बढ़ाने का ये रास्ता अपनाने के बाद से उनके फ़ॉलोवर्स की संख्या में काफ़ी बढ़त हुई है।

पते की बात: किसी को भी बेवजह की अनचाही पोस्ट और जानकारी में दिलचस्पी नहीं होती है! इसलिए सोशल मीडिया पर लोगों से बातचीत करते समय हमेशा दिलचस्प, उपयुक्त और विश्वसनीय जानकारी शेयर करें।

उदहारण के तौर पर: लोगों को अपना पेज फ़ॉलो करने के लिए प्रेरित करने के उद्देश्य से, “मेन्स फ़ैशन इन मुंबई” नाम के Facebook ग्रुप पर पुरुषों के नए फ़ैशन और रुझानों के बारे में चर्चा करना साई के लिए काफ़ी प्रभावी कदम रहा। इसकी जगह अगर वह ग्रुप पर सीधे लिख देतीं कि “पुरुषों के सस्ते परिधानों के लिए मुझे फ़ॉलों करें” तो वह संभावित ग्राहकों को इतना आकर्षित नहीं करता।

पांचवा कदम – अपने फ़ॉलोवर्स के साथ अच्छे संबंध बनाएं


अपने नए फ़ॉलोवर्स को बनाए रखने के लिए अपने कॉन्टेंट में उनकी दिलचस्पी बरकरार रखें। आप जितना ज़्यादा उनकी बात सुनेंगे वो उतना ही सम्मानित महसूस करेंगे। आपकी पोस्ट पर लोगों के कॉमेंट का जवाब दें और खुद भी कॉमेंट करें। ऐसा करने से नई बातचीत शुरू हो सकती है जिसमें और ज़्यादा लोग शामिल हो सकते हैं।

उदहारण के तौर पर: मान लें कि आप एक रेरेस्तरां चलाते हैं। ऐसे में बस अपने रेस्तरां का समय और खाने की क़ीमत पोस्ट कर देना ही काफ़ी नहीं है। ऐसा करके आप लोगों को बातचीत में शामिल नहीं कर पाएंगे। इसकी जगह अगर आप अपने रेस्तरां की नई डिश के बारे में पोस्ट करके, उस पर लोगों की राय मांगकर या उन्हें चर्चाओं, प्रतियोगिताओं और सर्वे के ज़रिए बातचीत में शामिल होने के लिए प्रेरित करेंगे, तो संभावित ग्राहकों और दर्शकों को ज़्यादा संख्या में आकर्षित कर सकेंगे।

अपने ग्राहकों और दर्शकों की ज़रुरतों और रूचियों के बारे में ज़्यादा जानकारी हासिल करने के लिए अपने ऑनलाइन समुदाय के साथ ज़्यादा समय गुज़ारने की कोशिश करें। इस जानकारी से आपको अपने व्यवसाय, उत्पाद और सेवाओं में ज़रूरी बदलाव कर उन्हें प्रतिस्पर्धी बनाए रखने में मदद मिलेगी। अपने फ़ॉलोवर्स को एक फ़ोकस ग्रुप के रूप में देखें जिससे आप जानकारी हासिल कर सकते हैं। ताकि अपने व्यवसाय और सोशल मीडिया की रणनीति में ज़रूरी बदलाव कर सकें।

अब आपकी बारी


कोई एक सही रास्ता होने की जगह आपकी सोशल मीडिया उपस्थिति को बढ़ाने के कई तरीके हैं।

एक कलम उठाइए और सोशल मीडिया पर अपनी फ़ॉलोविंग बढ़ाने के तरीकों के बारे में सोचिए। हमने कुछ विचारों का ज़िक्र पहले ही कर दिया है जैसे अपनी मार्केटिंग सामग्री में अपने यूआरएल को शामिल करना और अपने दोस्तों को फ़ॉलो करने के लिए आमंत्रण देना। अपनी लिस्ट को विस्तार से बनाने के लिए आप इन विचारों को भी शामिल कर सकते हैं।

एक बार फ़िर से देखें


  • जितने ज़्यादा लोग आपकी पोस्ट को क्लिक, लाइक, शेयर या उस पर कॉमेंट करेंगे, उसके संभावित नए फ़ॉलोवर्स के द्वारा देखे जाने की उतनी ही ज़्यादा संभावना है।
  • सोशल मीडिया पर अपनी फ़ॉलोविंग बढ़ाने के कई तरीके हैं। : अपने दोस्तों और मौजूदा ग्राहकों को आमंत्रित करें, अपनी मार्केटिंग सामग्री के ज़रिए इसका प्रचार करें, नियमित रूप से बेहतरीन कॉन्टेंट पोस्ट करें और दूसरी संबंधित प्रोफाइल पर भी दूसरे यूज़र के साथ जुड़ें।
  • सोशल मीडिया पर आपकी फ़ॉलोविंग एक फ़ोकस ग्रुप की तरह काम कर सकती है, जिससे आप जनाकारी हासिल करके अपने व्यवसाय और सोशल मीडिया की रणनीति में ज़रूरी बदलाव कर सकते हैं।

Courtesy: https://digitalskills.fb.com